How to apply for Atal Pension Yojana

You are currently viewing How to apply for Atal Pension Yojana

अटल पेंशन योजना

Atal Pension Yojna सरकार द्वारा चलायी जाने वाली एक महत्वपूर्ण योजना हैं! इस यजना का लाभ कोई भी 18 से 40 साल के बीच के व्यक्ति ले सकता हैं! अटल पेंशन योजना का शुरुआत इसलिए किया गया था की असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले गरीबों को ज्यादा से ज्यादा फायदा मिल सके! अटल पेंशन स्कीम की घोषणा भारत सरकार के द्वारा 2015-2016 के बजट में असंगठित सेक्टर में काम करने वाले लोगो की सहायता करने के उद्देश्य से किया गया था|

Atal Pension Yojna के अंतर्गत 60 वर्ष पूरा होने पर प्रति माह 1000 रु से लेकर 5000 रु तक की धनराशि पेंशन के रूप में प्राप्त करने का विकल्प है! इस योजना के अंतर्गत पेंशन का निर्धारण व्यक्ति की उम्र और निवेश किये गए राशि के आधार पर निश्चित किया जाता हैं! APY के अनुसार आवेदन करने वाले व्यक्ति को हर महीने एक प्रीमियम जमा करना होगा जितना का प्रीमियम जमा करेंगे उस प्रीमियम के अनुसार 60 साल का उम्र पूरा होने पर सरकार के द्वारा मासिक पेंशन के रूप में सहायता दी जाएगी! ताकि इस पेंशन से लाभार्थी अपना जीवन यापन सुख और शांति से बिता सकते है|

अटल पेंशन योजना का उद्देश्य

Atal Pension Yojna का मुख्य रूप से उद्देश्य यह की Unorganised Sector(असंगठित क्षेत्र) में काम करने वालो लोगो को उज्जवल भविष्य के लिए पेंशन देकर सुरक्षित करना, सशक्त और आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनाना है! इस योजना का लाभ सरकारी कर्मचारी और जो लोग इनकम टैक्स का भुगतान करते हैं वे लोग इस योजना का लाभ नहीं ले पाएंगे| अटल पेंशन योजना के माध्यम से आवेदन करने वाला लाभार्थियों को 60 वर्ष की आयु के बाद किसी दूसरों पर आर्थिक रूप से निर्भर नहीं रहना पड़ेगा। APY में निवेश से रिटायर होने के बाद आप हर माह पेंशन पाने के हकदार हो सकते हैं|

Atal Pension Yojna के तहत निवेशकर्ता का जीवनसाथी उमीदवार की मृत्यु पर पेंशन का दावा कर सकता है! अगर उमीदवार और उसके पति / पत्नी दोनों की मृत्यु हो जाती है तो ये पेंशन की धनराशि उल्लेखित नॉमिनी को दी जाती हैं! हालाँकि, अगर योगदानकर्ता का 60 वर्ष की आयु पूरा करने से पहले मृत्यु हो जाता है, तो पति या पत्नी को इस योजना से बाहर निकलने और कॉर्पस का दावा करने या शेष अवधि के लिए योजना जारी रखने का भी ऑप्शन दिया जाता है। भारत सरकार द्वारा निर्धारित निवेश पैटर्न के अनुसार, इस योजना के स्वरुप एकत्रित राशि का प्रबंधन PFRDA(पेंशन फंड्स रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया) एक नोडल एजेंसी की तरह काम करता है|

अटल पेंशन योजना की विशेषताएं

  1. भारत सरकार इस योजना के अंतर्गत व्यक्ति को उसके रिटायरमेंट के बाद दिए जाने वाले मिनिमम पेंशन की गारंटी देती है|
  2. अटल पेंशन योजना में किये गए Investment पर सेक्शन 80CCD के अंतर्गत टैक्स का बेनिफिट मिलता हैं|
  3. अटल पेंशन योजना में सभी बैंक अकाउंट होल्डर्स शामिल हो सकते है|
  4. इस योजना में इन्वेस्ट करने वाले व्यक्ति को 60 वर्ष पूरा होने के बाद पेंशन मिलने लगता है|
  5. इस योजना से आप जितनी जल्दी जुड़ेंगे आपको उतना ही अधिक लाभ मिलेगा|
अटल पेंशन योजना के लाभ
  • इस योजना के माध्यम से लाभार्थियों को 60 वर्ष की आयु पूर्ण होने के बाद 1000 रूपये से लेकर 5000 रूपये तक की पेंशन राशि प्रदान किया जायेगा।
  • इस पेंशन की राशि आवेदक द्वारा भरे गए प्रीमियम के आधार पर प्रदान किया जायेगा|
  • अटल पेंशन योजना में सरकार अपनी ओर से अंशदान भी प्रदान करता है।
  • इस योजना में इनकम टैक्स सेक्शन 80 के अंतर्गत टैक्स में छूट भी दिया जाता है|
  • यदि लाभार्थी की 60 वर्ष की आयु से पहले मृत्यु हो जाती है तो लाभार्थी की पत्नी को पेंशन की धनराशि दी जाएगी|
  • अगर पति पत्नी दोनों की मृत्यु हो जाती है तो पेंशन की राशि नॉमिनी को मिलेगी।
अटल पेंशन योजना पात्रता
  • लाभार्थी भारत का स्थायी नागरिक हो।
  • आवेदन करने वाले की आयु 18 से लेकर 40 वर्ष के बीच का हो|
  • लाभार्थी को मिनिमम 20 वर्षों के लिए भुगतान करना चाहिए।
  • अटल पेंशन योजना के लिए वही व्यक्ति आवेदन कर सकता है जो इनकम टैक्स स्लैब से बाहर है।
  • आवेदक का बैंक खाता आधार नंबर से पंजीकृत होना चाहिए|
अटल पेंशन योजना हाइलाइट्स
योजना का नाम अटल पेंशन योजना
किस ने लांच की भारत सरकार
लाभार्थी कौन होंगेभारत के नागरिक
कब शुरू किया गया वर्ष 2015
उद्देश्य रिटायरमेंट के बाद पेंशन प्रदान करना
अटल पेंशन योजना दस्तावेज़
  • मोबाइल नंबर का होना जरूरी हैं|
  • आवेदक का आधार कार्ड का होना आवश्यक हैं|
  • पहचान पत्र
  • स्थायी पता का प्रमाण
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • बैंक पासबुक

APY Scheme Contribution Chart

atal pension yojna contribution chart
अटल पेंशन योजना के लिए आवेदन कैसे करे?

इस योजना के लाभ लेने के लिए आपको किसी भी राष्ट्रीयकृत बैंक में अपना अकाउंट खुलवाए! अटल पेंशन योजना के आवेदन करने के लिए आप बैंक से फॉर्म ले सकते हैं! या ऑनलाइन फॉर्म डाउनलोड कर सकते हैं! फॉर्म डाउनलोड करने के लिए यहां पर क्लिक करें (https://www.npscra.nsdl.co.in/nsdl-forms.php)
फॉर्म अंग्रेजी, हिंदी, बंगला, गुजराती, कन्नड़, मराठी, ओडिया, तमिल और तेलुगु भाषा में उपलब्ध हैं! इस फॉर्म के सभी डिटेल्स को भरें और इसे बैंक के ब्रांच में जमा कर दें! अब आपके सभी पत्रों का सत्यापन करने के बाद आवेदन एक्सेप्ट होने पर आपको एक पुष्टिकरण संदेश भेजा दिया जाएगा।

अटल पेंशन योजना के डिफॉल्टर होने की स्थिति में शुल्क

यदि आप समय पर भुगतान नहीं करते हैं तो जुर्माना शुल्क मासिक आधार पर लगाया जाता हैं|

  • 100 रूपये प्रतिमाह तक के कॉन्ट्रिब्यूशन के लिए 1 रूपये का जुर्माना लगाया जाता हैं|
  • 101 रूपये से लेकर 500 रूपये प्रतिमाह तक के कॉन्ट्रिब्यूशन के लिए 2 रूपये का जुर्माना लगाया जाता हैं|
  • 500 रुपये से लेकर 1,000 रुपये प्रतिमाह तक के कॉन्ट्रिब्यूशन के लिए 5 रुपये का जुर्माना लगाया जाता हैं।
  • 1,001 रूपये से ऊपर के योगदान के मामले में 10 का जुर्माना लगाया जाता हैं|
  • यदि आप 6 महीने की अवधि तक अपने भुगतान पर डिफ़ॉल्ट पाया जाता है तो खाते को फ्रीज कर दिया जाएगा।
  • अगर आप 12 महीने की अवधि तक डिफ़ॉल्ट पाये जाते हैं तो आपका खता डीएक्टिवेट कर दिया जाएगा।
  • यदि आप 24 महीने की अवधि तक कोई भुगतान नहीं करते है तो APY खाता बंद कर दिया जाएगा और शेष राशि ग्राहक को भुगतान कर दी जाएगी।

Note:- Atal Pension Yojna के तहत केवल मृत्यु या लाइलाज बीमारी जैसे मामलों में, उसके नॉमिनी को पूरा राशि वापस दिया जाता हैं! यदि आप इस योजना को किसी अन्य कारण से 60 वर्ष की आयु से पहले बंद कर देतें हैं तो इस स्थिति में केवल आपका योगदान और अर्जित ब्याज ही वापस किया जाता हैं! और आप सरकार के सह-अंशदान या उस राशि पर अर्जित ब्याज पाने के हक़ में नहीं होंगे|

This Post Has 2 Comments

  1. Sumit Kumar

    Thanks for providing best information

  2. ramu kumar

    Good information

Leave a Reply